Myupchar Up to date: June 2, 2020, 11:07 AM IST
उम्र बढ़ने के साथ सेक्सुअल डिजायर में कमी से परेशान हैं, समाधान आपके पास ही है; पढ़ें

सेक्स समस्या और समाधान

सेक्स ड्राइव (Sexual Want) उम्र सहित कई अन्य कारकों पर निर्भर करती है लेकिन अगर आपको कम उम्र में ही यौन इच्छा की कमी महसूस हो रही है और यह आपके रिश्ते को प्रभावित कर रही है, तो आपको डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए…




  • Final Up to date:
    June 2, 2020, 11:07 AM IST

जीवन का एक अहम हिस्सा होने के बावजूद सेक्सुअल डिजायर (Sexual Want) यानी यौन इच्छा पर बात करना आज भी हमारे समाज में वर्जित है. अलग-अलग लोगों और उनके उम्र के हिसाब से यौन इच्छाएं भी अलग होती हैं. पुरुषों में टेस्टोस्टेरॉन और महिलाओं में एस्ट्रोजन हार्मोन यौन इच्छा को बढ़ाने में मदद करते हैं. उम्र बढ़ने के साथ-साथ कामेच्छा में कमी आनी शुरू हो जाती है. महिलाओं में एक उम्र के बाद मेनोपॉज जैसे होने वाले शारीरिक परिवर्तन के कारण उनमें सेक्स के प्रति रुचि में कमी आ जाती है. वैसे तो यौन इच्छा का कोई तय मानक नहीं है, लेकिन इसकी कमी कई प्रकार के कारकों के कारण भी हो सकती है. इसमें प्रमुख हैं – कम नींद, शराब का अधिक सेवन, शारीरिक, भावनात्मक और जीवनशैली संबंधी कई प्रकार की समस्याएं.

सेक्स ड्राइव वैसे तो उम्र सहित कई अन्य कारकों पर निर्भर करती है लेकिन अगर आपको कम उम्र में ही यौन इच्छा की कमी महसूस हो रही है और यह आपके रिश्ते को प्रभावित कर रही है, तो आपको डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए. अब सवाल उठता है कि क्या पुरुषों में उम्र के साथ कामेच्छा में कमी स्वाभाविक है? आइए इस विषय को विस्तार से जानने की कोशिश करते हैं.

क्या पुरुषों में उम्र बढ़ने के साथ कामेच्छा में कमी सामान्य है?

विशेषज्ञों का मानाना है कि उम्र के साथ सेक्स के प्रति रुचि का कम होना स्वाभाविक है. हालांकि, अधिकांश पुरुष 60 से 70 साल की आयु तक अपनी कामेच्छा को बनाए रखते हैं. उम्र के साथ कामेच्छा में कमी कई स्थितियों के कारण भी हो सकता है जैसे – अवसाद, तनाव, शराब, अवैध दवाओं का सेवन और थकान आदि. कभी-कभी शरीर के अंदरूनी विकारों के चलते पुरुषों के सेक्स हार्मोन में कमी आ जाती है, इस वजह से भी सेक्स के प्रति अरुचि हो जाती है. कुछ दवाईयों का सेवन भी इसका प्रमुख कारण हो सकता है.यहां आपको ध्यान देने की जरूरत है – अगर आपकी कामेच्छा में अचानक से कमी आनी शुरू हुई है, तो ऐसे मामले में डॉक्टर से बात करना बहुत आवश्यक होता है. आपकी स्थिति को देखते हुए आपके डॉक्टर कुछ शारीरिक परीक्षण का सुझाव दे सकते हैं. इसके आधार पर यह निर्धारित होगा कि आखिर कामेच्छा में आ रही कमी की मुख्य वजह क्या है? परीक्षण के परिणामों के आधार पर डॉक्टर आपको उपचार के कुछ विकल्पों के बारे में सुझाव दे सकते हैं.

  • डॉक्टरों को अगर लगता है कि आपकी समस्या तनाव या अवसाद से संबंधित है, तो वह ऐसी दवाओं का सुझाव दे सकते हैं, जो अवसाद से आपको छुटकारा दिला सकें.
  • ऑब्सट्रक्टिव स्लीप एपनिया जैसी कुछ स्थितियां होती हैं जो असामान्य रूप से टेस्टोस्टेरोन स्तर को कम कर सकती हैं. स्लीप एपनिया के उपचार से टेस्टोस्टेरोन के स्तर को दोबारा से सही किया जा सकता है.डॉक्टर आपको टेस्टोस्टेरोन रिप्लेसमेंट थेरेपी की सलाह दे सकते हैं, जो आपके टेस्टोस्टेरोन स्तर और सेक्स ड्राइव को सामान्य कर सकती है.
  • यदि यह समस्या किसी विशेष दवा के कारण आ रही है तो डॉक्टर किसी अन्य दवा को लेने का सुझाव दे सकते हैं.
  • कुछ लोगों को अपने डॉक्टरों के साथ सेक्स पर चर्चा करने में शर्म महसूस होती है. लेकिन ध्यान रखें उपचार के माध्यम से इस परेशानी से निजात मिल सकती है. इसलिए अपने डॉक्टर से ऐसी परेशानियों के बारे में खुलकर बात करें.

कामेच्छा में कमी का उपचार

कामेच्छा में कमी की स्थिति कई बार मानसिक समस्याओं को भी जन्म दे सकती है. यौन क्रियाओं में असंतोष, रिश्तों को खराब कर सकता है. ऐसे में जरूरी है कि आप इसका यथाशीघ्र उपचार शुरू कर दें. कामेच्छा में कमी के कारण के आधार पर ये संभावित उपचार हो सकते हैं –

  • स्वस्थ जीवनशैली अपनाएं. आहार में सुधार करें, नियमित व्यायाम करें और पर्याप्त नींद लेना बहुत आवश्यक है.
  • शराब पीना बंद कर दें और तनाव कम करें.
  • तनाव या थकावट से संबंधित कामेच्छा की कमी में मनोवैज्ञानिक से परामर्श लें.

अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल, सेक्स के प्रति अरुचि के कारण, इलाज और डॉक्टर पढ़ें।

न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं। सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है। myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं।

अस्वीकरण : इस लेख में दी गयी जानकारी कुछ खास स्वास्थ्य स्थितियों और उनके संभावित उपचार के संबंध में शैक्षणिक उद्देश्यों के लिए है। यह किसी योग्य और लाइसेंस प्राप्त चिकित्सक द्वारा दी जाने वाली स्वास्थ्य सेवा, जांच, निदान और इलाज का विकल्प नहीं है। यदि आप, आपका बच्चा या कोई करीबी ऐसी किसी स्वास्थ्य समस्या का सामना कर रहा है, जिसके बारे में यहां बताया गया है तो जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करें। यहां पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार के लिए बिना विशेषज्ञ की सलाह के ना करें। यदि आप ऐसा करते हैं तो ऐसी स्थिति में आपको होने वाले किसी भी तरह से संभावित नुकसान के लिए ना तो myUpchar और ना ही Information18 जिम्मेदार होगा।

Information18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए हेल्थ & फिटनेस से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First revealed: June 2, 2020, 11:05 AM IST

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here